Breaking News
Home / breaking / आस्था के साथ ही सेहत से भी जुड़ा है महाशिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे

आस्था के साथ ही सेहत से भी जुड़ा है महाशिवरात्रि पर्व, जानिए कैसे

 

न्यूज नजर : महाशिवरात्रि आने वाली है आप सभी के मन में यह सवाल होगा कि महाशिवरात्रि आखिर कब है तो आपको बता दें महाशिवरात्रि मार्च महीने में सोमवार को आएगी और उस दिन दिनांक 4 होगी। आपको बता दें महाशिवरात्रि अधिकांश तौर पर मार्च में ही आती है और लोग इसे बड़े ही धूमधाम से मनाते हैं कई स्त्री व पुरुष इसके लिए उपवास भी रखते हैं पर ऐसा कोई जरूरी नहीं है आपके मन में यदि महाशिवरात्रि को लेकर या शिव भगवान को लेकर आस्था है तो भी आप केवल उन्हें सच्चे मन से याद करके इस त्यौहार को मना सकते हैं।

 

लड़कियां महाशिवरात्रि पर क्यों रखती हैं व्रत

आपको बता दें अविवाहित लड़कियां महाशिवरात्रि पर इसलिए उपवास रखती है ताकि उन्हें एक अच्छा पति मिल सके जो उनके काबिल हो और उन्हें एक अच्छा सो प्रदान कर सके उनका ध्यान रख सके इसके अलावा जो विवाहित महिलाएं होती हैं वह यह व्रत इसलिए रखती हैं ताकि उनके पति की शारीरिक स्थिति अच्छी रहे उनके काम में बरकत हो और उनके पति के जीवन में खुशी ही खुशी रहे।

शिवरात्रि का उपवास लड़के क्यों रखते हैं

इसके अलावा आखिर महा शिवरात्रि का उपवास लड़के क्यों रखते हैं तो आपको बता दें लड़के अपने उज्जवल भविष्य के लिए अपने मन की शांति के लिए और भगवान शिव को अपना समझ कर उनको सम्मान देने के लिए यह उपवास रखते हैं लेकिन इसका कतई यह मतलब नहीं है कि जो उपवास नहीं रखता तो वह भगवान शिव का सच्चा भक्त नहीं है।

क्या उपवास रखना चाहिए

आपको जैसा कि पहले भी बता चुके हैं यदि आपके मन में शिव को लेकर सच्ची आस्था है यह किसी भी दूसरे भगवान को लेकर सच्ची आस्था है तो यह काफी होता है किसी भगवान के लिए उपवास रखना या रखना ना रखना आपकी इच्छा पर निर्भर करता है इसके लिए कोई भगवान आपको जिम्मेदार नहीं ठहरा था और ना ही आपको उपवास रखने के लिए कहता है।

विज्ञान की दृष्टि से भूखा रहना फायदेमंद

यदि विज्ञान की दृष्टि से देखा जाए तो हिंदू धर्म में उपवास रखना एक स्वस्थ रहने की निशानी है क्योंकि समय समय पर इंसान यदि भूखा रहेगा तो उसका शरीर स्वस्थ रहेगा इससे शरीर का रक्त संचरण बड़े ही अच्छे तरीके से होने लगता है आपको इन सब बातों का विश्वास हो या ना हो लेकिन यह सच है इसके चलते उपवास रखने के तो ऐसे फायदे भी बताएं गए हैं जो कि आपकी आस्था को तो पूरा करते ही हैं।

भूखे रहेंगे तो कैंसर नहीं होगा

इसके अलावा आपके शरीर में कहीं खतरनाक बीमारियों को होने से बचाते हैं जी हां हम बात कर रहे हैं कैंसर जैसी बड़ी बीमारी की जो कि बहुत ही खतरनाक है लेकिन कई शोधकर्ताओं ने यह बताया है कि जब आपके शरीर में खाने की पूर्ति पूरी तरीके से नहीं हो पाती तो कैंसर को बनाने वाले जीवाणु नष्ट हो जाते हैं क्योंकि यह जीवाणु कैंसर को बढ़ाने के लिए आप ही के शरीर के भोजन का इस्तेमाल करते हैं और उसको खाते हैं और अपने जैसे कई सैकड़ों जीवाणु बनाते हैं और यदि आप महीने में दो बार भी ऐसे दिन निकालते हैं । जिस दिन आप उपवास रखे हुए होते हैं या कुछ खाते पीते नहीं हैं तो इन जीवाणुओं को अपनी विकास की पूर्ति करने के लिए पर्याप्त भोजन नहीं मिल पाता और इस कारण यह जीवाणु मर जाते हैं यह बड़ी ही अजीब बात है लेकिन ऐसा शोधकर्ताओं ने बताया है।

यह भी पढ़ें

महाशिवरात्रि विशेष : शिव ने त्रिशूल फेंका और तोड़ दिया महासागर का घमंड

Check Also

बहुला चतुर्थी का व्रत आज : गौ पूजन से मिलेगा मनवांछित फल

न्यूज नजर : भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को बहुला गणेश चतुर्थी के …