Breaking News
Home / breaking / रेलवे स्टेशन पर बिकेंगे बेडशीट, मास्क सेनेटाइजर

रेलवे स्टेशन पर बिकेंगे बेडशीट, मास्क सेनेटाइजर

 

रतलाम। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए अब रेल यात्री रेलवे स्टेशन पर चादर, बेडशीट, सेनेटाइजर आदि खरीद सकेंगे। यात्रियों की सुरक्षा और अपनी आय बढ़ाने के लिए रतलाम रेलवे ने नया प्रयोग किया है।  रेलवे स्टेशन पर कोविड कियोस्क बनाए जाएंगे। यहां यात्री अपने लिए बेडशीट, कंबल, पीपीई किट, मास्क, सैनिटाइजर आदि खरीद सकेंगे।

मध्य प्रदेश स्थित रतलाम रेल मंडल के वाणिज्य विभाग द्वारा तैयार प्रस्ताव को डीआरएम विनीत गुप्ता ने मंजूरी दे दी है। रतलाम की ही एक फर्म को काम सौंपा गया है। मंडल में रतलाम के अलावा प्रदेश के इंदौर और उज्जैन स्टेशन पर यह कियोस्क खोले जाएंगे। इससे रेलवे को सालाना 3.60 लाख रुपये की आय भी होगी।

 

पूर्व में एक्‍सप्रेस, राजधानी और शताब्‍दी ट्रेनों के एसी कोच में यात्रियों को सफर के दौरान कंबल, बेडशीट और तकिया दिया जाता था। कोच अटेंडेंट संबंधित यात्रियों की बर्थ पर पहुंचकर यह सामग्री देने के बाद सफर खत्म होने पर वापस लेकर धुलाई के लिए भेज देते थे। मार्च में कोरोना संक्रमण बढ़ने पर रेलवे ने यह व्यवस्था बंद कर दी। ट्रेनों का परिचालन बंद होने के बाद जब दोबारा स्पेशल ट्रेनें और राजधानी एक्सप्रेस चलाई गई, तब से यात्रियों को अपने स्तर पर चादर व बेडशीट साथ लेकर चलने की गाइडलाइन जारी की गई थी।

50 से 250 रुपए तक

प्रस्ताव में जो सामग्री बेची जानी है, उसमें चादर, बेडशीट, तकिया खोल, चादर, पीपीई किट, मास्क, सैनिटाइजर, हैंड ग्लब्स व कोविड चश्मे भी शामिल रहेंगे। इन सामग्रियों की दर 50 से लेकर 250 रपये तक रहेगी। शर्तो के मुताबिक रेलवे कर्मचारी को छूट देना होगी, जबकि अन्य यात्रियों को भी निर्धारित दर पर ही सामग्री बेचना होगी।

यह है कियोस्क किराया

रेल मंडल के रतलाम और इंदौर में प्लेटफॉर्म नंबर 4 व उज्जैन में प्लेटफॉर्म नंबर 1 पर कियोस्क के लिए स्थान निर्धारित किया है। कियोस्क 6 गुणा 6 वर्गफीट का रहेगा। रेलवे को प्रति कियोस्क से हर माह 10 हजार रुपये किराया मिलेगा।

Check Also

राखी में होती है रक्षा पोटली जैसी ताकत, आज पूरे दिन मुहूर्त

  न्यूज नजर : भाई की कलाई पर राखी बांधने के लिये हर बहन रक्षा बंधन …