Breaking News
Home / breaking / होलिका दहन पर रोक और लॉक डाउन का खुलकर विरोध होने लगा

होलिका दहन पर रोक और लॉक डाउन का खुलकर विरोध होने लगा

 
 
इंदौर। कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रशासन ने होलिकादहन के दिन लॉकडाउन और उसके अगले दिन लॉकडाउन जैसी सख्‍ती का फैसला किया है। कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दलों के नेता इसके विरोध में खुलकर सामने आ गए हैं। इस फैसले को लेकर जनता भी नाराज है।
 
भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने भी ट्वीट कर कहा, ‘होलिका दहन रोकना अनुचित !!! इंदौर के जिला प्रशासन ने होली दहन नहीं करने के आदेश दिए हैं। ये बेहद आपत्तिजनक फैसला है। मेरा आग्रह है कि प्रशासन इस फैसले पर पुनर्विचार करे। इससे जनता की धार्मिक भावनाएं आहत होंगी।
 
 
कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने इंदौर क्राइसेस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक में होली पर सख्ती और लॉकडाउन लगाने जैसे निर्णय की आलोचना। उन्होंने फैसले का विरोध करते हुए कहा कि होली जलाएंगे भी और मनाएंगे भी, प्रशासन में ताकत हो तो रोक के बताए।
 
शुक्ला ने कहा कि भाजपा सरकार अब तक गरीब विरोधी थी लेकिन अब हिन्दू विरोधी भी हो चुकी हैं। कोरोना की आड़ में रंगों के त्योहार पर सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। होली दहन पर हमारी माता-बहनें होलिका की पूजा करती है। समाज और परिवार के लोग मृतक के घर रंग डालने जाते हैं। आखिर भाजपा सरकार इतनी अमानवीय क्यों हो रही है?
 
भाजपा नेता उमेश शर्मा ने भी इस फैसले का विरोध करते हुए कहा कि होलिकादहन तो होगा। मैं क्राईसेस मैनेजमेंट कमेटी के निर्णय से असहमति व्यक्त करता हूं। मेरे मोहल्ले में कोविड नियम पालन के साथ ही पर्व पूजन होगा। जिलाधीशजी आपका प्रकरण, डीआईजी आपका डंडा शिरोधार्य। मेरे भाई के निधन पश्चात धुलेंडी पर सीमित सीमा म़े परिवार में रंग डालने स्वजन भी आऐंगे।
 
मालूम हो कि एक दिन पहले जिला आपदा प्रबंधन की बैठक आयोजित की गई। बैठक में आगामी दिनों में आने वाले होली के त्योहार को देखते हुए बड़े फैसले लिए गए।
 
रेसीडेंसी कोठी पर आयोजित बैठक में निर्णय लिया गया कि शहर के बाजार शुक्रवार 26 मार्च से 9 बजे से बंद होंगे। भोपाल से आए आदेश में रात 8 बजे ही बाजार बंद करने के लिए कहा गया था, लेकिन जनप्रतिनिधियों ने बाजारों को 9 बजे तक खुला रखने की मांग की।
 
करीब 1 घंटे तक चली बैठक में जनप्रतिनिधियों ने निर्णय पर सहमति व्यक्त की कि 28 मार्च की रात सार्वजनिक स्थानों पर होने वाला होलिका दहन नहीं होगा। इस पर पूर्ण रूप से प्रतिबंध रहेगा। इसी रात मुस्लिम समाज का एक बड़ा पर्व शब ए बरात भी है, वह भी घरों में ही मनाया जाएगा। किसी को घर से निकलने की इजाजत नहीं रहेगी। 

Check Also

डॉक्टर ने पैर की चमड़ी से जोड़ दी महिला की कटी जीभ, अब मुंह के अंदर उगने लगे बाल

  लंदन। इंग्लैंड में रहने वाली 48 साल की एनाबेल लोविक ने कैंसर जैसी बीमारी को …