Breaking News
Home / breaking / इकबाल और शमशुद्दीन बनाएंगे राम मंदिर में लगने वाला 2100 किलो वजनी घंटा

इकबाल और शमशुद्दीन बनाएंगे राम मंदिर में लगने वाला 2100 किलो वजनी घंटा

एटा। उत्तर प्रदेश की पौराणिक नगरी अयोध्या में जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर के मुख्य द्वार पर लगने वाले दो कुंतल वजनी घंटे के निर्माण एटा की घुंघरू नगरी जलेसर में किया जायेगा।

देश में घुंघरू घंटी उद्योग के लिए पहचाने जाने वाले एटा के जलेसर कस्बे में स्थित एक फर्म को घंटे के निर्माण के लिये कहा गया है और यहां 2100 किलो के घंटे का निर्माण कार्य शुरू किया जायेगा। यह घंटा देश भर के मंदिरो में लगे घंटो की तुलना में सबसे विशाल और वजनी होगा।

जलेसर के चेयरमैन और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नेता विकास मित्तल ने बताया कि उनकी फैक्ट्री को मौखिक रूप से राम मंदिर के लिए कुल 10 घंटे बनाने का आर्डर मिला है। पीतल समेत अन्य धातुओं के इन घंटों को कारीगर इक़बाल, शमशुद्दीन और दाऊ दयाल बना रहे हैं।

फर्म के सूत्रों ने बताया कि अचानक घंटों की बढ़ी डिमांड को देखते हुए कारखाने में कारीगरों की संख्या बढ़ा दी गयी है। राम मंदिर में लगने वाले घंटो में एटा की घुंघरू घंटी नगरी जलेसर और निर्माता फैक्ट्री का नाम भी लिखा जाएगा।

Check Also

13 दिसम्बर शुक्रवार को आपके भाग्य में क्या होगा बदलाव, पढ़ें आज का राशिफल

  पौष मास, कृष्ण पक्ष, प्रतिपदा तिथि, वार शुक्रवार, सम्वत 2076, हेमन्त ऋतु, रवि दक्षिणायन, …