Breaking News
Home / breaking / कलमनाथ के ओएसडी व पूर्व सलाहकार के इनकम टैक्स रेड, सियासत गरमाई

कलमनाथ के ओएसडी व पूर्व सलाहकार के इनकम टैक्स रेड, सियासत गरमाई

नई दिल्ली। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी प्रवीण कक्कड़ के इंदौर तथा पूर्व सलाहकार राजेंद्र मिगलानी के दिल्ली और भाेपाल स्थित आवास सहित करीब 50 स्थानों पर आयकर विभाग के अधिकारियों ने रविवार तड़के छापेमारी शुरू की जिसमें अब तक नौ करोड़ रुपए बरामद हो चुके हैं। उधर, कमलनाथ ने इसे राजनीतिक साजिश बताते हुए कहा कि चुनाव ने जनता इसका जवाब देगी। जबकि बीजेपी का कहना है कि यह आयकर विभाग की कार्रवाई है। इसमें बीजेपी का कोई लेना-देना नहीं है।

सूत्रों ने बताया कि यह छापेमारी हवाला के जरिए धन के लेन देन के सिलसिले में की गई है। अभी तक आयकर विभाग की टीम ने नौ करोड़ रुपये बरामद किए हैं। कक्कड़ ने कमलनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद दिसंबर 2018 में ओएसडी का पद संभाला था और आम चुनाव की घोषणा के बाद इस पद से इस्तीफा दे दिया था। मिगलानी ने छिंदवाड़ा में चुनाव प्रबंधन के लिए हाल ही में अपने पद से इस्तीफा दिया था।

सूत्रों ने कहा कि आम चुनाव के दौरान हवाला के जरिये भारी मात्रा में नकदी लेनदेन करने के बारे में मिली जानकारी के आधार पर छापेमारी की गई है। कक्कड़ के इंदौर के विजयनगर स्थित आवास, बीसीएम हाइट्स स्थित कार्यालय, उनके द्वारा संचालित एक विवाह भवन और एक फ्लैट पर छापेमारी की कार्रवाई की गई है।

मिगलानी के भोपाल और दिल्ली के ग्रीन पार्क स्थित आवास पर छापेमारी की गयी। इस दौरान मिगलानी के रिश्तेदार मोजर बेयर के मालिक के नोएडा स्थित परिसराें पर भी छापेमारी की गई है।

सूत्रों ने कहा कि 50 स्थानों पर छापेमारी की जा रही है जिनमें श्री कलमनाथ के करीबी सहयोगियों के अलावा उनके रिश्तेदार रातुल पूरी एवं उनकी कंपनी अमिरा ग्रुप और मोजर बेयर शामिल है। भोपाल, इंदौर, गोवा और दिल्ली में करीब 35 स्थानों पर छापेमारी की गयी है जिसमें करीब 200 अधिकारी शामिल हैं।

सूत्रों ने कहा कि कोलकाता के कारोबारी पारस लाल लोढ़ा के ठिकानों पर भी छापेमारी की गई है। छापों के दौरान जब्त दस्तावेजों की विस्तृत जांच की जा रही है।

कक्कड़ राज्य पुलिस सेवा के पूर्व अधिकारी हैं। उन्हें गत दिसंबर में राज्य में कांग्रेस सरकार के गठन के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ का ओएसडी नियुक्त किया गया था। वरिष्ठ कांग्रेस नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के ओएसडी भी रह चुके हैं।

Check Also

महिला अपने 4 बच्चों के साथ कुएं में कूदी, सभी की मौत

  मंदसौर। मध्यप्रदेश के मंदसौर जिले की भानपुरा तहसील के ग्राम खेड़ा खजूरना में बंजारा …