Breaking News
Home / breaking / कालेड़ा के च्यवनप्राश और ब्रह्म रसायन का कोई नहीं ढूंढ पाया तोड़

कालेड़ा के च्यवनप्राश और ब्रह्म रसायन का कोई नहीं ढूंढ पाया तोड़

अजमेर। चिकित्सा तथा स्वास्थ्य, आयुर्वेद एवं भारतीय चिकित्सा, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं, चिकित्सा शिक्षा और सूचना और जन संपर्क मंत्री डाॅ. रघु शर्मा ने रविवार को केकड़ी के निकट कालेड़ा कृष्ण गोपाल आयुर्वेद भवन में बाॅयलर तथा आटोमैटिक प्लाट का शुभारम्भ किया।

डाॅ. शर्मा ने कालेड़ा में 88 वर्ष पूर्व स्थापित कृष्ण गोपाल आयुर्वेद भवन धर्मार्थ ट्रस्ट में बाॅयलर का शुभारम्भ किया। इससे औषधियों का निर्माण अधिक तेजी से होगा साथ ही स्वचालित प्लाट का शुभारम्भ किया इससे औषधियों का निर्माण परिशुद्धता के साथ कम लागत से हो पाएगा।

डाॅ. रघु शर्मा ने कहा कि राजस्थान में आयुर्वेद के विकास की अपार संभावनाएं हैं। देश में पांच आयुर्वेद विश्वविद्यालयों में से एक जोधपुर में स्थापित है। यहां पंचकर्म, रसायन शाला, औषधालय जैसी सुविधाएं उपलब्ध हैं। कालेड़ा धर्मार्थ ट्रस्ट के विकास में संसाधनों की कोई कमी नहीं रहेगी। यहां पूर्व में पीने के पानी विद्यालय, सड़क, आईटी सेन्टर की सुविधा प्रदान की गई है। इसी प्रकार आगे भी सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएगी। अजमेर डेयरी के अध्यक्ष रामचन्द्र चैधरी ने कहा कि अजमेर डेयरी के द्वारा आयुर्वेद भवन को निर्धारित छूट पर घी एवं अन्य सामग्री उपलब्ध करवाई जाती रहेगी।

ट्रस्ट के अध्यक्ष दीनबंधु चैधरी ने कहा कि स्वामी कृष्णानंद एवं ठाकुर नाथूसिंह का सपना आज आटोमैटिक प्लाट के शुभारम्भ के साथ ही साकार हो गया। भवन द्वारा शुद्धता एवं सम्पूर्ण घटक द्रव्यों के साथ औषधि निर्माण परम्परा आगे भी जारी रहेगी। पूर्व प्रधानमंत्राी मोरारजी देसाई एवं राजीव गांधी ने भी ट्रस्ट की औषधियों की सराहना की है। यहां 355 प्रकार की शास्त्रोक्त औषधियां निर्मित की जाती हैं। साथ ही औषद्यालय, चल चिकित्सालय जैसी गतिविधियां भी संचालित की जा रही है। यहां निर्मित च्यवनप्राश और ब्रह्म रसायन का कोई अन्य कम्पनी आज तक तोड़ नहीं निकाल सकी है। ये उत्पाद विदेशों तक में प्रसिद्ध हैं।

समारोह में प्रबन्धक जटाशंकर शर्मा को 31 हजार रूपए का पुरस्कार प्रदान किया गया। इसके साथ ही सचिव मुकेश आनन्द, सलाहकार वीपी गुप्ता, व्यवस्थापक नरसिंग राम काला, निर्माण वैद्य जमदग्नि शर्मा, ठाकुर अम्बिका शरण, जगदीश कुड़ी एवं सुरेन्द्र जोशी को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर ट्रस्ट अध्यक्ष दीनबंधु चैधरी, मैनेजिंग ट्रस्टी श्यामसुन्दर छापरवाल, ट्रस्टी वीरभद्र सिंह, कालीचरण खण्डेलवाल, ठाकुर अम्बिका शरण सिंह उपस्थित थे।

Check Also

प्रेमी के साथ लिव इन में रह रही एक्ट्रेस ने किया सुसाइड, मां को भेजा मैसेज- ‘उसे सजा जरूर दिलवाना’

मुंबई। तमिल एक्ट्रेस मैरी शीला जेबरानी उर्फ याशिका ने अपने फ्लैट में फांसी लगाकर आत्महत्या …