Breaking News
Home / breaking / जलदाय विभाग ने भेजे पानी के मनमाने बिल, विधानसभा में उठा मामला

जलदाय विभाग ने भेजे पानी के मनमाने बिल, विधानसभा में उठा मामला

 

जयपुर। राजस्थान विधानसभा में आज जयपुर शहर में जलदाय विभाग द्वारा पानी के मनमाने बिल भेजने एवं बंद मीटर वाले उपभोक्ताओं का नि:शुल्क योजना का लाभ नहीं देने का मामला उठा।

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक कालीचरण सराफ ने शून्यकाल में स्थगन प्रस्ताव के तहत यह मामला उठाया। सराफ ने कहा कि राज्य सरकार ने शहरी क्षेत्र में पन्द्रह हजार लीटर पानी उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं को पानी नि:शुल्क देय होगा लेकिन इस योजना का लाभ केवल चालू मीटर वाले उपभोक्ता ही ले पा रहे हैं जबकि बंद मीटर वाले उपभोक्ता इसका फायदा नहीं उठा पा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि शहर में चार लाख 71 हजार पानी के कनेक्शन है जिसमें दो लाख 61 हजार मीटर बंद पड़े हैं। बंद पड़े मीटर के उपभोक्ताओं को मनमाने बिल भेजे जा रहे हैं।

इस पर जलदाय मंत्री बी डी कल्ला ने हस्तक्षेप करते हुए बताया कि गत आठ मार्च को पन्द्रह हजार लीटर तक पानी का मासिक उपभोग करने वाले उपभोक्ताओं के लिए जल एवं सीवरेज शुल्क नहीं लेने का प्रावधान किया गया था। इसमें स्थाई शुल्क 27़ 50 रुपए एवं मीटर किराया 22 रुपए लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ चालू मीटर पर देय है।

उन्होंने कहा कि जो मीटर बंद है उनका विभाग में रिकार्ड के हिसाब से औसत बिल भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि 35 हजार मीटर बदले जा चुके है और इस वर्ष तक 35 हजार मीटर और बदले जाने का लक्ष्य है। इसके बाद मीटर उपल्बध होने के आधार इनको बदला जायेगा।

Check Also

धनु राशि में सूर्य का प्रवेश और धार्मिक मलमास

  न्यूज नजर : 16 दिसम्बर को सूर्य का धनु राशि के मूल नक्षत्र में …