Breaking News
Home / breaking / नामदेव समाज के प्रदेशाध्यक्ष राजेन्द्र नामदेव पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

नामदेव समाज के प्रदेशाध्यक्ष राजेन्द्र नामदेव पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

 

न्यूज नजर डॉट कॉम
भोपाल। नामदेव समाज विकास परिषद मध्यप्रदेश के प्रदेशाध्यक्ष राजेन्द्र नामदेव पर गिरफ्तारी की तलवार लटक गई है। तेजाब हमले की शिकार नामदेव समाज की ही युवती को सरकारी नौकरी दिलाने के बहाने होटल के कमरे में उसके साथ बलात्कार का प्रयास करने के आरोपी राजेन्द्र नामदेव मैहर को अदालत ने अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया है।

राजेन्द्र नामदेव को गत 30 जनवरी को ही शिवराज सिंह चौहान सरकार ने मध्यप्रदेश सिलाई कला मंडल का उपाध्यक्ष बनाया था और बीस दिन बाद ही उन्हें इस गम्भीर आरोप के चलते पद से हटाने के साथ ही भाजपा से निलंबित कर दिया था।

अदालत में मामला अत्यंत गम्भीर माना

अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने शुक्रवार को राजेन्द्र नामदेव की अग्रिम जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए आदेश में लिखा कि यह मामला अत्यंत गम्भीर है। इसलिए आरोपी को अग्रिम जमानत नहीं दी जा सकती।

राजेन्द्र नामदेव के वकील जेपी तिवारी ने तर्क दिया कि राजनीतिक दुर्भावना के कारण नामदेव के खिलाफ झूठा मामला दर्ज किया गया है। जबकि सरकारी वकील प्रीति श्रीवास्तव ने अदालत को बताया कि नामदेव राजनीतिक व्यक्ति है। जमानत मिलने पर वह पीड़िता को डरा धमकाकर जांच को प्रभावित कर सकता है। हनुमान गंज थाना प्रभारी ने अदालत को बताया कि राजेन्द्र नामदेव के खिलाफ सतना में धोखाधड़ी का मामला भी दर्ज है। दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद अदालत ने राजेन्द्र नामदेव को अग्रिम जमानत देने से इनकार कर अर्जी खारिज कर दी।

 

गिरफ्तारी के प्रयास

निचली अदालत में अर्जी खरिज होने के बाद अब राजेन्द्र नामदेव हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी लगा सकते हैं। उधर, एएसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि राजेन्द्र नामदेव की गिरफ़्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

समाज की बेटी मांग रही इंसाफ

दो दिन पहले पुलिस ने पीड़िता के अदालत में बयान दर्ज कराए। बाहर आकर पीड़िता ने मीडिया से बातचीत में आरोप लगाया कि राजेन्द्र नामदेव अपनी एक महिला मित्र एवं नामदेव समाज विकास परिषद की महिला पदाधिकारी के जरिए उसे डरा धमका रहा है और बर्बाद करने की धमकी दे रहा है। पीड़िता ने आरोपी की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है।

सत्ता बड़ी या जमीर ?

मदद के बहाने समाज की ही बेटी से दुष्कर्म की कोशिश का यह सनसनीखेज मामला सामने आने के बाद से नामदेव समाज हतप्रभ है। राजेन्द्र नामदेव के समर्थकों ने समाज के सोशल मीडिया ग्रुप्स में त्वरित टिप्पणियां करते हुए इसे राजनीतिक साजिश करार दे दिया। उन्होंने पीड़ित बेटी को सम्बल बंधाना तो दूर, उलटा उसके चरित्र पर ही सवालिया निशान लगा दिया है।
दूसरी ओर कई समाजबंधुओं ने मामले को शर्मनाक बताते हुए कहा कि मामला कितना सच्चा-कितना झूठा है, यह तो पुलिस जांच में ही स्पष्ट होगा। लेकिन इससे पहले ही पीड़िता के चरित्र पर लांछन लगाने वालों ने अपनी मानसिकता दर्शा दी है। अगर यही घटना उनकी पत्नी-बेटी के साथ होती तो क्या तब भी वे तत्काल इस तरह की टिप्पणी करते।
बहरहाल इस घटना ने समस्त नामदेव समाज को विचलित कर रखा है।

यह है मामला

राज्यमंत्री राजेन्द्र नामदेव की कुर्सी छीनी, भाजपा से भी निलंबित

Check Also

मोतियाबिंद ऑपरेशन में छह मरीजों की आंखों की रोशनी गई थी, एक की मृत्यु

  वाराणसी । उत्तर प्रदेश में वाराणसी के मारवाड़ी अस्पताल में मोतियाबिंद के ऑपरेशन के बाद …