Breaking News
Home / breaking / पिता रामविलास पासवान के विरोध में धरने पर बैठी पुत्री आशा

पिता रामविलास पासवान के विरोध में धरने पर बैठी पुत्री आशा

पटना। लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष रामविलास पासवान की पुत्री आशा पासवान ने अपने पिता के बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को कथित रूप से अंगूठा छाप कहे जाने को लेकर उनके खिलाफ ही धरने पर बैठ गई।

आशा पासवान के धरना स्थल गर्दनीबाग में अपने पिता एवं केन्द्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री पासवान के राष्ट्रीय जनता दल विधानमंडल दल की नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी को लेकर उनके दिए गए बयान पर माफी मांगने की मांग पर अड़ी हुई हैं।

उन्होंने कहा कि उनके पिता पासवान ने पूर्व मुख्यमंत्री को अंगूठा छाप कहकर सिर्फ उनका नहीं बल्कि पूरे बिहार की महिलाओं का अपमान किया है। पिता ने उनकी मां राजकुमारी पासवान को भी अपमानित किया है और अंगूठा छाप होने के कारण ही छोड़ दिया है।

पासवान की पुत्री ने कहा कि उनके पिता के इस तरह का बयान देने के बाद उन्हें माफी मांगनी होगी। धरने पर बैठी आशा केन्द्रीय मंत्री पासवान की पहली पत्नी राजकुमारी पासवान की पुत्री हैं। आशा के पति साधु पासवान हाल ही में लोजपा छोड़कर राजद में शामिल हुए हैं। पासवान की दूसरी पत्नी का नाम रीना पासवान है और उनके पुत्र चिराग पासवान बिहार के जमुई से लोजपा के सांसद हैं।

उल्लेखनीय है कि दो दिन पूर्व ही पासवान ने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी का नाम लिए बगैर कहा था कि काेई भी अनपढ़ (अंगूठा छाप) मुख्यमंत्री बन जाता है।

Check Also

 ट्रेनों में मसाज सुविधा का प्रस्ताव कैंसिल, भारतीय संस्कृति के खिलाफ बताया

नई दिल्ली। पश्चिम रेलवे ने इंदौर से चलने वाली 39 ट्रेनों में यात्रियों के लिए …