Breaking News
Home / breaking / भाजपा जिला उपाध्यक्ष की जाति विशेष के खिलाफ टिप्पणी से फैला आक्रोश

भाजपा जिला उपाध्यक्ष की जाति विशेष के खिलाफ टिप्पणी से फैला आक्रोश

 

सिरोही। सिरोही भाजपा जिला उपाध्यक्ष और जिला अध्यक्ष के सबसे करीबी माने जाने वाले विजय गोठवाल द्वारा फेसबुक पर जाति विशेष पर अपमानजनक टिप्पणी करने पर पूरे जिले में रोष फैल गया। आबूरोड शहर में तो उनके खिलाफ रैली निकालकर नारेबाजी की गई और तहसीलदार व थाना प्रभारी को ज्ञापन देकर उनकी गिरफ्तारी की मांग की गई।

 

बाद में गोठवाल ने फेसबुक पर ही इसके लिए माफी भी मांगी, लेकिन फिलहाल लोग उन्हें माफ करने के मूड में कम ही नजर आ रहे हैं। बाद में ब्राह्मण समाज और राजपूत समाज ने सांतपुर में गोठवाल का पुतला भी जलाया। गोठवाल आबूरोड से भाजपा के पार्षद भी हैं।
भाजपा जिला उपाध्यक्ष विजय गोठवाल ने 2 अप्रेल को हुए बंद के बाद ब्राह्मण समाज पर अपमानजनक टिप्पणी की। इसके बाद ब्राह्मण समाज में रोष फैल गया। आबूरोड में ब्राह्मण समाज ने रैली निकालकर गोठवाल के खिलाफ नारेबाजी की। यह लोग रैली के रूप में तहसील कार्यालय और आबूरोड थाना पहुंचे।

 

वहां पर इन लोगों ने ज्ञापन देकर गोठवाल की गिरफ्तारी की मांग की। इधर, सोशल मीडिया पर भी यह पोस्ट फैल गई। जिससे सोशल मीडिया पर भी गोठवाल के खिलाफ माहौल बन गया। इनकी गिरफ्तारी और पद से इस्तीफा लेने तक की बात होने लगी। भाजपा संगठन महामंत्री को विप्र फाउण्डेशन के अनिल वैष्णव द्वारा ज्ञापन भेजकर पार्टी से निष्कासित करने की मांग की है

पद्मावत को लेकर की गयी टिप्पणी भी हुई वायरल
इसी पोस्ट के साथ पद्मावत के विरोध के दौरान करणी सेना के बंद के आह्वान के दौरान भी एक अपमानजनक टिप्पणी की थी। यह टिप्पणी भी जब सोशल मीडिया पर वायरल हुई तो विप्र समाज के साथ-साथ राजपूत समाज में भी रोष व्याप्त हो गया। करणी सेना ने भी गोठवाल की गिरफ्तारी की मांग की है। सोशल मीडिया पर गोठवाल की इन टिप्पणियों के बाद सर्वसमाज में रोष व्याप्त हो गया।

सर्व समाज की बैठक आज

भाजपा जिला उपाध्यक्ष विजय गोठवाल के द्वारा ब्राह्मण और राजपूत समाज पर की गई टिप्पणी के वायरल होते ही सभी समाजों में सामाजिक वैमनस्यता फैलाने के उनके कदम की निंदा होने लगी। इसे लेकर आबूरोड में दोपहर 12 बजे सर्वसमाज की बैठक आयोजित की जाएगी। जिसमें अग्रिम कार्रवाई व रणनीति पर विचार किया जाएगा।

रेवदर से एमएलए के दावेदार

विजय गोठवाल स्वयं को रेवदर विधानसभा से जगसीराम कोली की जगह भाजपा के दावेदार के रूप में प्रोजेक्ट कर रहे हैं। इसके लिए वह निरंतर प्रयासरत हैं। इसी प्रयास को लेकर कुछ दिनों पर फेसबुक में अपने सरनेम के साथ जाति लिखकर भी फोटो पोस्ट किया था।

इसी पोस्ट पर उन्होंने एक और टिप्पणी देते हुए लिखा था कि उन्होंने जाति गोपालन मंत्री ओटाराम देवासी के कहने पर लिखी है। इसके बाद राजनीतिक हलकोें में यह चर्चा भी चली की देवासी रेवदर विधानसभा में हस्तक्षेप करते हुए जगसीराम कोली का विकल्प तैयार कर रहे हैं।

मांगी माफी

चहुंओर विवाद होने के बाद विजय गोठवाल ने शाम को अपने फेसबुक वाल पर और व्हाट्स एप पर उनकी पोस्ट पर की गई टिप्पणी पर अफसोस जाहिर करते हुए माफी मांगी। लेकिन, फिलहाल उनकी पोस्ट के लिए कोई भी समाज उन्हें माफी देने के मूड में नहीं है गुरुवार को आबूरोड में आयोजित बैठक को इसी रूप में देखा जा रहा है।

भाजपा में भी विरोध

इन टिप्पणियों के बाद भाजपा के नेताओं में भी गोठवाल के खिलाफ रोष व्याप्त हो गया। उन्होंने भी गोठवाल के इस कृत्य को समाज में विद्वेष फैलाने वाला बताया। उन्होंने इसे पार्टी को नुकसान पहुंचाने के लिए परम्पारागत वोटरों को भाजपा से छिटकाने की हरकत भी करार दिया।

 

Check Also

शादी के दो दिन बाद दुल्हन ने मायके में खाया जहर, मचा हड़कम्प

बिलासपुर । छत्तीसगढ़ के जांजगीरचांपा जिले के बजरंगीपारा क्षेत्र में एक नवविवाहिता की जहरीले पदार्थ के सेवन के कारण मौत हो गयी। …