Breaking News
Home / breaking / सिपाही ने पत्नी को घर से निकाला, बस में बहू को देखकर ससुर की नीयत हुई खराब

सिपाही ने पत्नी को घर से निकाला, बस में बहू को देखकर ससुर की नीयत हुई खराब

पीलीभीत। दहेज को लेकर अक्सर रोज ही अलग-अलग तरह के केस आते रहते हैं। कई केस ऐसे होते हैं जो जिनमें दहेज के लिए महिला को प्रताड़ित करके घर से निकाल दिया जाता है। इसी तरह का एक मामला यूपी के पीलीभीत जिले से आया है।
यहां एक महिला की शादी यूपी पुलिस के सिपाही से हुई थी। सिपाही मेरठ में तैनात है। महिला ने बताया कि दहेज को उसके पति ने पीट कर उसे घर से निकाल दिया। जब वह मायके आ रही थी तो बस के अंदर उसके ससुर की नीयत खराब हो गई। बस के अंदर ही ससुर ने उसके साथ छेड़खानी शुरू कर दी। किसी तरह उनसे बचकर वह अपने मायके पहुंची। एसपी के निर्देश पर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया।

मामला पीलीभीत जिले के पूरनपुर का है। एक मोहल्ले की रहने वाली युवती का विवाह मेरठ के शास्त्री नगर निवासी कांस्टेबल के साथ 22 नवंबर 2015 को हुआ था। विवाहिता ने एसपी को दिए शिकायती पत्र में बताया उसका पति मेरठ में तैनात है। विवाह के दौरान परिजनों ने 10 लाख का दहेज दिया। विवाह के कुछ माह बाद ही उससे प्लाट खरीदने के लिए पांच लाख के दहेज की डिमांड की। विरोध करने पर मारपीट कर उसको घर से निकाल दिया।

21 अगस्त 2022 को पति व ससुर उसके मायके पहुंचकर दहेज न मांगने की बात कहीं। रजामंदी की बाद विवाहिता चली गई। आरोप है ससुर ने बस में बैठी विवाहिता के साथ छेड़छाड़ की। विरोध करने पर गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया। बस में बैठे लोगों ने बीच बचाव कर उसे बचाया। दूसरी बस में बैठाकर उसे मायके भेज दिया।

थाना व सीओ से शिकायत करने के बाद भी कार्रवाई नहीं हुई। एसपी के आदेश पर पुलिस ने कांस्टेबल पति, सास, ससुर, ननद, ननदोई समेत नौ के खिलाफ केस दर्ज किया।

Check Also

क्लास में सरेआम प्रोफेसर ने मुस्लिम छात्र को कहा ‘आतंकी’, वीडियो वायरल

उडूपी। कर्नाटक में उडुपी जिले के मनिपाल स्थित एक निजी विश्वविद्यालय के प्रोफेसर को निलंबित …