Breaking News
Home / breaking / हनुमानजी को दलित बताने पर सुषमा स्वराज ने किया योगी का बचाव

हनुमानजी को दलित बताने पर सुषमा स्वराज ने किया योगी का बचाव

जयपुर। राजस्थान के चुनावी रण में वसुंधरा राजे की नैया पार लगाने जयपुर पहुंचीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हनुमानजी को दलित बताने पर यूपी के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि योगी की बात का गलत व अधूरा अर्थ निकाला गया है। योगी ने अपने बयान के अंत में कहा था कि हनुमानजी हम सबके तारणहार हैं।

सुषमा ने कहा कि अगर उनके बयान को आप पूरा सुनेंगे तब आपको पता चलेगा कि उन्होंने क्या कहा।
सुषमा ने कहा कि मैंने योगी जी से इस बारे में राजस्थान आने से पहले बात की, क्योंकि यह राजस्थान में ही कहा गया था। उन्होंने कहा, ‘योगी जी ने मुझसे कहा कि मेरा अंतिम वाक्य किसी ने नहीं सुना, मैंने अंत में मैंने कहा था कि हनुमान जी हम सब के तारणहार है।

 

मालूम हो कि राजस्थान के अलवर में बीते मंगलवार को एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा था कि ‘बजरंगबली एक ऐसे लोक देवता हैं, जो स्वंय वनवासी हैं, निर्वासी हैं, दलित हैं, वंचित हैं। भारतीय समुदाय को उत्तर से लेकर दक्षिण तक पूरब से पश्चिम तक सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं।

 

सीएम योगी के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना हो रही है। ब्राह्मणों केवेक संगठन ने उन्हें कानूनी नोटिस भी भिजवा दिया है। ब्राह्मणों का कहना है कि हनुमानजी ब्राह्मण थे और उन्हें क्षत्रिय की उपाधि प्राप्त थी।

यह भी गौरतलब है कि योगी के बयान पर बवाल के बाद मोदी सरकार में मंत्री सत्यपाल सिंह का कहना है कि हनुमान जी आर्य थे। भगवान राम और हनुमान जी के युग में कोई जाति-व्यवस्था नहीं थी, इसलिए हनुमान जी आर्य थे।

Check Also

महिला सीए को एसीबी ने आठ लाख की रिश्वत लेते हुए पकड़ा

अहमदाबाद। गुजरात पुलिस के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने एक व्यक्ति से आठ लाख रूपए का …