Breaking News
Home / breaking / हर साल 10 गरीब लड़कियों को अपने पैरों पर खड़ा करता है यह मामूली टीचर

हर साल 10 गरीब लड़कियों को अपने पैरों पर खड़ा करता है यह मामूली टीचर

नारनौंद। लोग लाखों कमाने के बाद भी धन का लालच रखते हैं ऐसे में कुछ लोग ऐसे भी हैं जो अपने थोड़ी सी कमाई को भी भलाई के काम में लगा देते हैं जी हां आज हम ऐसे सक्श के बारे में आपको बताने जा रहे हैं जिनका का नाम है अजय लोहान जो कि हरियाणा के नारनौंद जिले के छोटे सरकारी स्कूल में अध्यापक है।

खास बात यह है कि अपनी कमाई से हर साल लगभग 10 लड़कियों का निशुल्क खर्चा उठाते हैं और उन्हें इतना काबिल बना देते हैं कि वह अपने पांव पर खड़ी हो सके। अजय लोहानको इसके लिए पुरस्कार भी दिया गया है यह ही नहीं बल्कि अजय लोहान को इंफोसिस कंपनी से 10 कंप्यूटर का मदद भी मिली है क्योंकि वह जब अपने बच्चों को इंफोसिस कंपनी के सर्वे पर लेकर गए थे तो वहां पर बच्चों से बातचीत के समय उनके जवाबों से खुश होकर कंपनी के प्रबंधक ने उन्हें 10 कंप्यूटर देने का फैसला सुनाया।

अजय लोहान का कहना है कि इस सब चीजों की प्रेरणा उन्हें अपने पिता से मिली उनके पिता काफी गरीब थे और वह स्कूल में राजनीति शास्त्र के अध्यापक रह चुके हैं उन्हें आग की रोशनी के सहारे पढ़ना पड़ता था और इन सब चीजो को देख कर ही अजय को बहुत प्रेरणा मिली आज इसलिए इस काम को अंजाम दे पा रहे हैं

आप सबके सामने यह एक प्रेरणा है और यह आप भी कर सकते हैं आप 10 बच्चों का नहीं तो कम से कम 1 बच्चे का खर्चा तो उठा ही सकते हैं और इससे हमारे देश का विकास होगा और बच्चों का भविष्य सुधरेगा जो लोग अभी इधर उधर की बातों में या धार्मिक कारणों पर लड़ते झगड़ते रहते हैं वह इस तरह का कुछ अच्छा काम करें देश का विकास का हिस्सा बन सकते है।

Check Also

महिला सीए को एसीबी ने आठ लाख की रिश्वत लेते हुए पकड़ा

अहमदाबाद। गुजरात पुलिस के भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने एक व्यक्ति से आठ लाख रूपए का …