Breaking News
Home / breaking / VIDEO : मुर्दा फिर से जिंदा होगा, तांत्रिक ने गांववालों को भेजा न्यौता कब्र से निकाली बेटे की लाश

VIDEO : मुर्दा फिर से जिंदा होगा, तांत्रिक ने गांववालों को भेजा न्यौता कब्र से निकाली बेटे की लाश

जयपुर। राजस्थान के धौलपुर शहर के नजदीक दो दिन तक अंधविश्वास का खुला खेल चला। एक तांत्रिक ने अपने 10 महीने के मृत बेटे को फिर से जिंदा करने के लिए उसकी कब्र खोद दी। सैकड़ों लोग यह चमत्कार देखने उमड़ पड़े। आखिरकार पुलिस को मामले में दखल देना पड़ा।

देखें वीडियो

 

धौलपुर के सदर थाना इलाके के बहवलपुर गांव में रहने वाले भगत रामदयाल के चार पुत्रियां हैं और पत्नी फिर से गर्भवती है। उसके एकमात्र पुत्र की मौत करीब 10 महीने पहले हो गई।

24 मार्च को भगत ने गांववासियों से यह कहकर सनसनी फैला दी कि वह अपने मृत बेटे को फिर से जिंदा कर देगा। यह दिखाने के लिए उसने बकायदा नाई के जरिए आसपास के गांवों में न्यौता भिजवाया। लाश निकलने के लिए 26 मार्च का दिन तय हुआ।

भगत ने न्यौते के साथ ही यह चेतावनी भी भिजवाई कि सभी घरों से एक व्यक्ति का आना जरूरी है, अगर किसी घर से एक भी शख्स नहीं आया तो देवता गांववालों से नाराज हो जाएंगे।

26 मार्च को दिन निकलने के साथ ही बहवलपुर गांव में सैकड़ों लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। भगत रामदयाल ने सभी के सामने पूजा पाठ कर अपने खेत में गाड़े गए बेटे की लाश बाहर निकाली और उसे काले कपड़े में अच्छी तरह ढककर देवता की मूर्ति के आगे रख दिया। इसके बाद पूजा अर्चना करने लगा।

7 दिन में होगा जिंदा

भगत ने गांववासियों को बताया कि देवता उसके सपने में आए थे। उन्होंने कहा कि तेरा बेटा जिंदा है। उसे बाहर निकाल, वह सातवें दिन जिंदा हो जाएगा।

पुलिस भी रही खामोश

गांव के पास ही पुलिस चौकी है लेकिन पुलिस ने अंधविश्वास के इस खेल को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया। मौके पर सैकड़ों लोग थे लेकिन एक भी पुलिसकर्मी आसपास नहीं फटका। जब सोशल मीडिया पर यह मामला वायरल हो गया और जिला प्रशासन तक बात पहुंची, तब पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने लाश वापस दफना दी और भगत रामदयाल को दुबारा ऐसी हरकत नहीं करने के लिए पाबन्द कर दिया।

Check Also

मन्दिर में दर्शन करने आई बीकॉम छात्रा ने चंबल नदी में कूदकर दी जान

    इटावा। उत्तर प्रदेश में इटावा के बढपुरा इलाके में चंबल नदी के पुल …