Breaking News
Home / breaking / केदारनाथ धाम में फिर बर्फबारी, जबरदस्त ठंड के बीच यात्रा की गर्मजोशी 

केदारनाथ धाम में फिर बर्फबारी, जबरदस्त ठंड के बीच यात्रा की गर्मजोशी 

 

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ धाम में शनिवार को हुई बर्फबारी का असर आज भी दिखाई दे रहा है। जबरदस्त ठंड के बीच यात्रा की गर्मजोशी देखने को मिल रही है।

कल दोपहर बाद हुई तेज बर्फबारी से ठंड बढ़ गई है। यहां लगभग दो इंच नई बर्फ जम चुकी है। रुद्रप्रयाग सहित अन्य निचले इलाकों में भी कल धूलभरी आंधी के साथ बारिश हुई।

शनिवार को सुबह से केदारनाथ में मौसम का मिजाज बिगड़ा रहा। इस दौरान सात बजे हल्की बारिश के बीच बर्फ गिरी। इसके बाद मौसम में सुधार हुआ। दिन चढ़ने के साथ हल्की धूप भी खिली रही, लेकिन बर्फीली हवा का प्रकोप बना रहा। दोपहर बाद पुन: मौसम खराब होने लगा और तीन बजे से एक घंटा तेज बर्फबारी हुई।

धाम में दो इंच से अधिक नई बर्फ जम चुकी है, जबकि ढाई फीट से अधिक बर्फ मौजूद है। खराब मौसम के कारण यात्रियों को खासी मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

 

शनिवार को हेमकुंड साहिब, सतोपंथ, फूलों की घाटी, रुद्रनाथ, लाल माटी, पनार बुग्याल के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई। जिले के निचले क्षेत्रों में भी तेज आंधी-तूफान के साथ बारिश हुई। जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिली। चमोली सहित बदरीनाथ धाम में शनिवार को दिनभर मौसम खराब रहा और बारिश हुई। यमुनोत्री और गंगोत्री धाम में भी बारिश हुई।

 

केदारनाथ में रुद्रा प्वाइंट से मंदिर तक दो किमी मार्ग के दोनों तरफ ढाई से तीन फीट बर्फ जमा है। बाबा के भक्तों को करीब चार किमी बर्फ काटकर बनाए गए रास्ते से धाम पहुंचना पड़ रहा है। बर्फ के कारण केदारपुरी ने फिर से सफेद चादर ओढ़ ली है। धाम में मौजूद जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी हरीश चंद्र शर्मा हालात पर नजर रखे हुए हैं।

निम के पूर्व प्राचार्य कर्नल (सेवानिवृत्त) अजय कोठियाल ने बताया कि रामबाड़ा से आगे मंदाकिनी नदी के दाई तरफ वाले क्षेत्र में वर्षभर धूप कम पड़ती है, जिस कारण यहां कई जगहों पर हिमखंड जोन हैं।

Check Also

21 जुलाई रविवार को आपके भाग्य में क्या होगा बदलाव, पढ़ें आज का राशिफल

  श्रावण मास, कृष्ण पक्ष, चतुर्थी तिथि, वार रविवार, सम्वत 2076, वर्षा ऋतु, रवि दक्षिणायन …