Breaking News
Home / breaking / VIDEO : 9 मिनट की दिवाली ने जगाई नई उम्मीद, देश बंधा एकसूत्र में

VIDEO : 9 मिनट की दिवाली ने जगाई नई उम्मीद, देश बंधा एकसूत्र में

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर रविवार रात नौ बजे नौ मिनट तक देशभर में लोगो ने घर की रोशनी बन्द कर घर के बाहर दीया और मोमबत्ती जलाकर कोरोना वायरस को हराने के लिए एकजुटता दिखाई और दीवाली जैसा उत्सव मनाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने गत तीन अप्रेल को देश की जनता से आह्वान किया था कि लोग पांच अप्रेल को घर की सभी लाइट बन्द करके रात नौ बजे नौ मिनट तक मोमबत्ती, दीया, टार्च या मोबाइल की फ़्लैश लाइट जलाएं। देश के आम और खास सभी लोगों ने मोदी के इस आह्वान पर अपने घरों की रोशनी बन्द कर दीपक और मोमबत्ती जलाई तथा एकजुटता का परिचय दिया।

अजमेर में जली अनोखी दीपमाला, देखें वीडियो

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, केंद्रीय मंत्रियों, राज्यों के मुख्यमंत्रियों, विभिन्न दलों के राजनेताओं, फिल्मी हस्तियों ने भी इस मौके पर दीपक जलाया और कोरोना के विरुद्ध जारी लड़ाई में एकता का परिचय दिया।

खुद मोदी ने कोरोना के खिलाफ रात नौ बजते ही दीप प्रज्वलित किया। अहमदाबाद में मोदी की माँ हीरा बेन ने भी दीपक जलाया। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, केरल के राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, प्रकाश जावड़ेकर, हर्ष वर्धन, रविशंकर प्रसाद, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान सहित कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इस दौरान दीप प्रज्वलित किए।

मशहूर फिल्म हस्तियों अभिनेता अमिताभ बच्चन, अनिल कपूर, रजनीकांत, अनुष्का शर्मा, क्रिकेटर विराट कोहली आदि प्रमुख हस्तियों ने भी कोरोना के खिलाफ दीप जलाए।

प्रधानमंत्री की अपील के दौरान बिजली की मांग में गिरावट

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रविवार रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की लाइटें बंद कर दीये जलाने की अपील के दौरान देश में 2049 बजे से लेकर 2109 बजे तक बिजली की मांग में 32000 मेगावाट की गिरावट दर्ज की गई।

प्रधानमंत्री मोदी ने लोगों ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता दिखाने के लिए रविवार रात नौ बजे नौ मिनट के लिए अपने-अपने घरों की लाइट बंद कर दीये, मोमबत्ती या मोबाइल की फ्लैश लाइट जलाने का आह्वान किया था।

बिजली मंत्री आर के सिंह ने ट्वीट कर कहाकि प्रधानमंत्री की अपील का लोगों ने बेहद गर्मजोशी से समर्थन किया और कोरोना के खिलाफ लड़ाई में भागीदारी दिखाते हुए दिए जलाए। इस दौरान बिजली की मांग में 32000 मेगावाट की गिरावट दर्ज की गई।

Check Also

मुख्यमंत्री ने शासन सचिव, स्कूल शिक्षा को शीघ्र पदोन्नति के संबंध में दिए निर्देश 

बीकानेर /जयपुर/अजमेर । शिक्षा विभागीय कर्मचारी संघ राजस्थान ने मुख्यमंत्री को आज ज्ञापन भेजा। संघ …