Breaking News
Home / breaking / पत्नी से 20 दिन बाद लौटने का वादा कर गए थे शहीद हेमराज

पत्नी से 20 दिन बाद लौटने का वादा कर गए थे शहीद हेमराज

कोटा। जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में आतंकवादी हमले में शहीद हुए राजस्थान में कोटा के हेमराज मीणा के पिता हरदयाल मीणा ने अपने पुत्र की शहादत पर गर्व करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार पाकिस्तान को इसका मुंहतोड़ जबाव देना चाहिए।

कोटा जिले के छोटा साथ गांव विनोद कला के रहने वाले 70 वर्षीय हरदयाल मीणा ने अपने पुत्र हेमराज के शहीद होने का दर्द को अपनी जुंबा से बया करते हुए कहा कि हम कब तक आतंकी हमले सहन करते रहेंगे और सैनिक कब तक शहीद होते रहेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार को पाकिस्तान से इस हमले का बदला लेना चाहिए तभी मेरे दिल के घाव सूखेंगे।

इस बीच पति की शहादत की खबर मिलते ही हेमराज की पत्नि मधुवाला की तबीयत बिगड़ गई और वह बेहोश हो गई। शहीद हेमराज के परिवार में माता पिता, भाई एवं पत्नी मधु एवं चार मासूम बच्चे साथ रहते हैं। शहीद की पत्नी से स्थानीय जनप्रतिनिधि मिलने पहुंचे तो उसने कहा कि अब मेरे बच्चों की देखभाल कौन करेगा।

सूत्रों के अनुसार शहीद हेमराज की नौकरी विवाह के बाद लगी थी। उसके रिटार्यड होने में भी अब केवल 18 माह ही शेष बचे थे। शहीद हेमराज मीणा के दो पुत्र एवं दो पुत्रियां हैं। बड़ी बेटी रीना उम्र 18 वर्ष, टीना उम्र 14 वर्ष, पुत्र अजय उम्र 12 वर्ष, ऋषभ की उम्र चार वर्ष है। हेमराज मीणा मंगलवार को ही कोटा से ड्यूटी पर गए थे। उन्होंने पत्नी से 20 दिन बाद लौटने का वादा किया था।

Check Also

अजमेर – सियालदाह एक्सप्रेस के चार डिब्बे पटरी से उतरे

अजमेर। राजस्थान में अजमेर रेल मंडल के मदार में आज ‘अजमेर – सियालदाह’ के चार डिब्बे …