Breaking News
Home / breaking / VIDEO : यहां ऊंट-घोड़े के पैरों तले कुचला जाता है कानून

VIDEO : यहां ऊंट-घोड़े के पैरों तले कुचला जाता है कानून

 

 

न्यूज नजर : अजमेर के ऐतिहासिक तारागढ़ किले पर गैरकानूनी तरीके से व्यावसायिक गतिविधियां अंजाम दी जा रही हैं। यहाँ आने वाले पर्यटकों और जायरीन की जान खतरे में डालकर उन्हें गेटवे ऑफ तारागढ़ पर ऊंट और घोड़े की सवारी कराई जा रही है।

 घोड़े पर जायरीन को बैठाकर फोटो खिंचवाने के लिए खतरनाक स्टंट भी किए जा रहे हैं। इस कारण यहां आए दिन हादसे होते रहते हैं।
 साथ ही ऐतिहासिक धरोहर को भी नुकसान पहुंचाया जा रहा है। लेकिन दरगाह थाना पुलिस की मिलीभगत से यह धंधा जारी है।
खास बात यह भी है कि पिछले दिनों भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ने घोड़े-ऊंट संचालकों के खिलाफ दरगाह थाने में नामजद मुकदमा दर्ज कराया था। लेकिन पुलिस अब तक इस गतिविधि पर रोक नहीं लगा सकी है।

देखें वीडियो

एक हजार साल पुराना तारागढ़ किला संरक्षित स्मारक है। गेटवे ऑफ तारागढ़ पर बोर्ड भी लगा है जिस पर साफ लिखा है कि 100 मीटर के भीतर का क्षेत्र प्रतिषिद्ध घोषित है। लेकिन इसी बोर्ड के पास दिनभर ऊंट घोड़े के पैरों तले कानून को कुचला जा रहा है।
इसके अलावा दो और जगह ऊंट घोड़े बांधकर फोटोग्राफी का धंधा चलाया जा रहा है।
करीब एक महीने पहले पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग के अधिकारी अरुण लाल ने दरगाह थाने में हुसैन और सलामुद्दीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया कि वे संरक्षित स्मारक को नुकसान पहुंचा रहे हैं। लेकिन पुलिस ने अब तक कोई एक्शन नहीं लिया है। इस कारण यहां अब भी बेखोफ होकर ऊंट घोड़े की सवारी कराई जा रही है।

Check Also

धर्मांतरण मामले में मौलाना के तीन साथी अरेस्ट, खातों में मिले 20 करोड़

लखनऊ। उत्तर प्रदेश पुलिस के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने अवैध धर्मांतरण मामले में मेरठ से गिरफ्तार …