Breaking News
Home / breaking / अनोखी परम्परा : होली पर्व पर शक्कर के गहनों की विशेष मांग

अनोखी परम्परा : होली पर्व पर शक्कर के गहनों की विशेष मांग

add kamal

आगरमालवा। आपने गहने तो देखे होंगे सोने, चांदी, मोती और नग नगीनों के, परन्तु प्रदेश के आगरमालवा जिले में शक्कर से बने हुए हार और कंगन की जमकर बिक्री हो रही है।

15-09-42-images

आगरमालवा जिले में होली का त्योहार मनाने की अनूठी परम्परा के चलते रविवार को शक्कर से बने गहनों की बिक्री हो रही है।

इसके लिए क्षेत्र में हलावाइयों की दुकानों पर शक्कर से बने हार और कंगन जैसे गहनों को ग्रामीणों द्वारा बड़ी मात्रा में खरीदा जा रहा है तथा अपनी परम्पराओं के तहत इन गहनों को पहनकर होलिका की पूजा अर्चना की जाएगी।

होली पर्व पर मालवा क्षेत्र के आगरमालवा जिले में वर्षों से चली आ रही फागुनी की परम्परा का निर्वहन करने के लिए छोटे-छोटे बच्चे और युवक-युवतियां सगाई के बाद इस क्षेत्र में प्रचलित अपने-अपने ससुराल से भेजे गये शक्कर से बने गहनें हार और कंगन आदि को लड़कियाँ गले और हाथों में पहनकर होली के ड़ांडे की पूजा करने के लिये सजधज जाती है।

keva bio energy card-2

शक्कर के इन गहनों को बनाने का कार्य होली से लगभग पन्द्रह-बीस दिनों पूर्व ही हलवाईयों की दुकानों पर किया जा रहा है।

शक्कर की चाशनी बनाने के बाद लकड़ी के सांचों को पानी में रखकर पहले इसको बनाया जाता है। जिससे इन हार और कंगनों की आकृती बनती है और ग्रामीण क्षेत्र के लोग बड़े ही उत्साह के साथ इन शक्कर के गहनों की खरीदी करते हैं।

Check Also

VIDEO : त्रिवेणी घाट की गंगा आरती कर देगी आपके तन-मन को सम्मोहित

ऋषिकेश। हरिद्वार से 25 किलोमीटर दूर स्थित ऋषिकेश के त्रिवेणी घाट पर रोज शाम होने …