Breaking News
Home / breaking / इस साल होलिका दहन का मुहूर्त रात 11:14 से लेकर 12:20 के बीच

इस साल होलिका दहन का मुहूर्त रात 11:14 से लेकर 12:20 के बीच

न्यूज नजर डॉट कॉम

होली पर्व 24 मार्च रविवार को है। इसी दिन सुबह 9:56 बजे से भद्रा शुरू हो रही है जो रात्रि 23:13 तक रहेगी । ऐसी मान्यता है कि भद्रा काल में कोई शुभ काम नहीं किया जाता इसलिए रविवार को होलिका दहन भी 11.14 बजे से पहले नहीं किया जाना चाहिए। होलिका दहन का शुभ मुहूर्त रात 12.20 बजे तक रहेगा।

 

ज्योतिषाचार्य के अनुसार फाल्गुन शुक्ल पक्ष की प्रदोष में पूर्णिमा को भद्रा के उपरांत होलिका का दहन किया जाता है। इस साल 24 मार्च रात 11:14 से लेकर 12:20 के बीच होलिका का दहन करना ही शास्त्र के अनुसार उचित है।

यह भी पढ़ें

होली पर प्राइवेट पार्ट्स की पूजा, गीतों से सेक्स एजुकेशन भी

ऐसे करें पूजन
होली का पर्व भक्त प्रह्लाद और होलिका से जुड़ा है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शरद ऋतु की समाप्ति और बसंत ऋतु के आगमन पर यह त्योहार बड़े उल्लास और उमंग से नाया जाता है। होली के दिन महिलाएं समूह में घर के पास रखी होली का पूजन करती हैं। रोली, हल्दी और अक्षत से पूजन करके हरे चने, गुजिया का भोग लगाया जाता है। पूजन के बाद हाथ में जल का पात्र लेकर होलिका की 5 होलिका की परिक्रमा लगाई जाती हैं। महिलाओं के लिए होली पूजन के लिए शुभ मुहूर्त प्रातः काल 9:10 से लेकर 11:07 रहेगा। दूसरा मुहूर्त दोपहर 3:46 से 4:30 तक रहेगा।

यह भी देखें

एक sms से हजारों परिवारों में मची खलबली

इस बार बन रहे हैं शुभ संयोग
सर्वार्थ सिद्धि योग – 24 मार्च सुबह 7.34 से 25 मार्च सुबह 6.19 बजे तक
रवि योग – सुबह 6.20 बजे से 25 मार्च सुबह 7.34 बजे तक
वृद्धि योग – 24 मार्च रात 8.34 से 25 मार्च रात 9.30 तक
धन शक्ति योग – होली पर कुंभ राशि में मंगल और शुक्र की युति से धन शक्ति योग बन रहा है।
त्रिग्रही योग – शनि, मंगल, शुक्र होली पर कुंभ राशि में रहेंगे, जो कि बढि़या योग है।
बुधादित्य योग – होली पर इस बार सूर्य-बुध की युति से बुधादित्य योग भी बन रहा है। इससे व्यक्ति व्यापार, शिक्षा और नौकरी के क्षेत्र में सफलता पाता है।
 

यह भी पढ़ें

होली पर प्राइवेट पार्ट्स की पूजा, गीतों से सेक्स एजुकेशन भी

Check Also

एसी कोच में पसीना आने पर भड़के रेलयात्री, ट्रेन रुकते ही कर दिया हंगामा

मथुरा। मंगला एक्सप्रेस ट्रेन के एसी कोच में कूलिंग कम होने से यात्रियों पर यात्रियों का …