Breaking News
Home / breaking / 17 साल की टेनिस प्लेयर से कोच ने किया रेप

17 साल की टेनिस प्लेयर से कोच ने किया रेप

 

जयपुर। राजधानी जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में कोचिंग लेने जा रही 17 साल की टेनिस प्लेयर के साथ उसके कोच द्वारा ही रेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पिछले कुछ महीनों से बदनामी के डर से चुप्पी साधे रखी रेप पीडिता ने परिजनों को आपबीती बताई। तब उसके पिता ने सोमवार देर रात जयपुर के ज्योति नगर थाने पहुंचकर कोच के खिलाफ दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज करवाया है।

पुलिस ने टेनिस कोच गौरांग को नामजद कर उसकी तलाश शुरू कर दी है। पीड़िता जयपुर की रहने वाली है। वह एक साल से SMS स्टेडियम में कोचिंग ले रही थी। जयपुर में दुष्कर्म करने के बाद टूर्नामेंट में खिलाने के बहाने कोच उसे उदयपुर भी ले गया और दुष्कर्म किया। पीड़िता ने अपने परिवार को दांस्ता बताते हुए कहा कि कोच उसे कहता था मैं बोलता हूं वो कर नेशनल खेलेगी। उसे कुछ समझ नहीं थी इसके चलते वो कभी कुछ बोल नहीं पाई।

 

जानकारी के अनुसार पीड़िता पिछले करीब एक साल से एसएमएस स्टेडियम में कोच गौरांग नलवाया के पास टेनिस की कोचिंग करने जा रही थी। पीड़िता के पिता का आरोप है कि उनकी बेटी को कोच गौरांग ने अच्छी परफार्मेंस दिलवाने में मदद करने और टेनिस में आगे बढ़ाने का झांसा देकर नजदीकियां बढ़ाईं और जयपुर में दुष्कर्म किया। मार्च 2021 में टूर्नामेंट के बहाने आरोपी गौरांग पीड़िता को अपने साथ उदयपुर ले गया। वहां भी उसने साथ जबरजस्ती शारीरिक संबंध बनाए, इसके बाद वे दोनों वापस आ गए।

यह भी देखें

इस बीच बेटी का व्यवहार बदल गया। काफी पूछने पर उसने चुप्पी तोड़ी और कोच गौरांग द्वारा उसका देहशोषण करने की बात बताई। इससे परिजन भी सन्न रह गए। आखिरकार आरोपी के खिलाफ कार्रवाई के लिए थाने पहुंचे। थाना प्रभारी सरोज धायल मामले की जांच कर रही है। गौरांग को पकड़ने के लिए पुलिस दबिश दे रही है।

मामले में ज्योति नगर थानाप्रभारी सरोज धायल का कहना है कि गौरांग सन 2012 से टेनिस कोच है। उसे पकड़ने के लिए प्रयास जारी है। संभावना जताई जा रही है कि और भी लड़कियां कोच की शिकार हो सकती है। बहरहाल गौरांग के पकड़े जाने पर ही देहशोषण के पूरे मामले का खुलासा हो सकेगा।

Check Also

21 जून सोमवार को आपके भाग्य में क्या होगा बदलाव, पढ़ें आज का राशिफल

ज्येष्ठ मास, शुक्ल पक्ष, एकादशी तिथि, निर्जला एकादशी व्रत, विश्व योग दिवस, वार सोमवार, सम्वत …