Breaking News
Home / breaking / मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के साथ 40 दिनों तक बरनावा आश्रम में रहेगा राम रहीम

मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के साथ 40 दिनों तक बरनावा आश्रम में रहेगा राम रहीम

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम को फिर से 40 दिन की पैरोल मिल गई है। खास बात यह है कि पिछले 57 दिन में डेरा प्रमुख जेल से दूसरी बार बाहर आया है। इससे पहले उसे पिछले वर्ष 15 अक्तूबर को 40 दिन की पैरोल मिली थी और वह पैरोल अवधि समाप्त होने पर 25 नवम्बर 2022 को फिर से जेल गया था।

 

उसकी पैरोल अर्जी स्वीकार होने के बाद शनिवार को रोहतक की सुनारिया जेल से राम रहीम बाहर निकला। इसके बाद उसे कड़ी सुरक्षा के बीच उत्तर प्रदेश के बागपत में स्थित बरनावा आश्रम में ले जाया गया। इस दौरान उसके साथ उनकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत भी थी। राम रहीम के जेल से बाहर आने के बाद हनीप्रीत ने अपनी इंस्टाग्राम पर स्टेटस भी अपलोड किया और राम रहीम के साथ कुछ तस्वीरें भी पोस्ट की हैं।

 

गौरतलब है कि 25 अगस्त, 2017 को राम रहीम को साध्वी यौन शोषण मामले में दोषी करार दिया गया था। इसके बाद से ही वह रोहतक की सुनारिया जेल में सजा काट रहा है। पिछले साल उसको 3 बार पैरोल मिली. थी। ऐसी जानकारी मिली है कि राम रहीम अपनी पैरोल अवधि के दौरान बागपत के आश्रम में रहेगा। पिछली बार राम रहीम को अक्तूबर, 2022 में 140 दिन की पैरोल मिली थी और इस पैरोल अवधि के दौरान उसने ऑनलाइन माध्यम से सत्संग किए थे।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम ने 3 दिन पहले जेल प्रशासन के पास पैरोल की अर्जी लगाई थी। अपनी अर्जी में उसने 25 जनवरी को सिरसा में प्रस्तावित भंडारे और सत्संग में शामिल होने को लेकर पैरोल मांगी थी। 25 जनवरी को डेरा के दूसरे गद्दीनशीन शाह सतनाम महाराज का जन्मदिन होता है और इस दिन डेरा सच्चा सौदा मुख्यालय सिरसा में भंडारे और सत्संग का आयोजन किया जाता है। इस सत्संग कार्यक्रम में देश-विदेश से लाखों की संख्या में श्रद्धालु शिरकत करते हैं। ऐसे में यह चर्चा भी जोरों पर है कि राम रहीम सिरसा आ सकता है। हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। फिलहाल डेरा प्रमुख की पैरोल के बाद डेरे में भी सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है और खुफिया तंत्र सक्रिय हो गया है।

 

बरनावा आश्रम पहुंचते ही जारी किया वीडियो संदेश

राम रहीम ने जेल से रिहा होकर उत्तर प्रदेश के बरनावा आश्रम पहुंचने के बाद शनिवार को ही अपने श्रद्धालुओं के नाम एक वीडियो संदेश जारी करके उन्हें आशीर्वाद दिया। उसने अपने इस वीडियो संदेश के जरिए कहा कि बहुत सालों के बाद बेपरवाह जी (शाह सतनाम जी) के अवतार माह पर आपके दर्शन करने का अवसर मिला है। आपसे लाइव भी मिलेंगे। उसने अपनी साथ संगत को शाह सतनाम जी के जन्म दिवस की बधाई दी और डेरा अनुयायियों के कुशलक्षेम की कामना भी की।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम के परिवार में उसकी मां और पत्नी के अलावा उसकी 2 बेटियां अमरप्रीत इन्सा, चरणप्रीत इन्सां के अलावा दामाद रूह- ए-मीत इन्सा, शान-ए-मीत इन्सा, बेटे जसमीत इन्सा का परिवार है। इसके अलावा मुंह बोली बेटी हनीप्रीत है। पिछले साल मार्च में डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम ने जेल से लिखी अपनी नौवीं चिट्ठी में अपने परिवार के विदेश में जाने का जिक्र किया था और उसके बाद राम रहीम की बेटी अमरप्रीत इन्सा 22 मई 2022 को विदेश में सैटल हो गई थी। इसके कुछ दिन बाद ही दूसरी बेटी चरणप्रीत इन्सा भी परिवार के साथ विदेश में सैटल हो गई।

जेल जाने के बाद सिरसा नहीं आया डेरा प्रमुख

डेरा प्रमुख राम रहीम को अगस्त, 2017 में जेल हुई थी। इस दौरान डेरा प्रमुख को बेशक 3 बार पैरोल और फरलो मिली है लेकिन वह सिरसा डेरा मुख्यालय मैं अभी तक नहीं आया है। सिरसा डेरा की स्थापना 29 अप्रैल, 1948 को शाह मस्ताना महाराज ने की थी। वह 1960 तक डेरा की गद्दी पर रहे। 1960 में शाह सतनाम महाराज डेरा के दूसरे गद्दीनशीन बने 23 सितम्बर, 1990 को राम रहीम 23 साल की उम्र में डेरा की गद्दी पर बैठा।

Check Also

मौलाना ने 14 साल की लड़की से किया रेप, प्रेग्नेंट होने पर दी गर्भपात की दवा

कानपुर. एक किशोरी को बहला फुसला कर मौलाना चार माह तक दुष्कर्म करता रहा. जब …